प्यार का अहसास बहुत ही खास होता है, जिसे हर पल जीते हैं। लेकिन कई बार यही प्यार कई लोगों के लिए मुश्किलों से भरा हो जाता है। जिन्हें इससे बाहर निकलना ही सही रास्ता लगता है। मगर पार्टनर की भलाई के लिए उसे छोड़ना भी आसान नहीं होता। डर रहता है वो खुद को संभाल पाएगा या नहीं। इस उलझन में फंसे हमारे यूजर ने भी एक सवाल पूछा है जिसका जवाब रिलेशनशिप कोच ने दिया।

सवाल :

‘मेरे रिलेशनशिप को 6 साल से ज्यादा का वक्त हो गया है। पार्टनर प्यार करता है, लॉयल भी है। लेकिन वो अपने भविष्य को लेकर सीरियस नहीं है, न ठीक से पढ़ाई करता है और ना ही करियर को लेकर कुछ सोचता है। मैं जॉब के साथ भी उससे बात करने का उससे मिलने का वक्त निकाल लेती हूं। पर उसकी तरफ से कोई एफर्ट्स देखने को नहीं मिलते।

बार-बार की कोशिश के बाद अब थककर मेरा मन उससे ब्रेकअप करने का करता है। सबकुछ शेयर करने के बाद भी वो कोई सुधार नहीं कर रहा है। मुझे रोकने के लिए कोई इंप्रूवमेंट भी नहीं करता, और मुझे छोड़ना भी नहीं चाहता। उसकी हरकतें मुझे इरिटेट करने लगी हैं। करियर को लेकर लापरवाही की वजह से अब शादी की संभावना बिल्कुल कम हो गई है। ऐसे में पार्टनर को हर्ट किए बिना रिलेशनशिप से बाहर कैसे निकल सकते हैं।’

इस परेशानी को लेकर प्रिडिक्शन्स फॉर सक्सेस के संस्थापक और रिलेशनशिप कोच विशाल भारद्वाज ने सलाह दी। जो कई रिश्तों की उलझन को आसान करने में मदद करती है। आइये आपको भी बताते हैं उनकी राय।

खुद से करें सवाल

सबसे पहले अपनी फीलिंग और प्रोडक्टिविटी के साथ ही भविष्य की संभावनाओं को लेकर विचार करें। क्या आप इस रिश्ते को और समय देने के लिए तैयार हैं, दुखी होने का अनुभव लेना चाहते हैं? अगर इसका जवाब ना है तो, इस बारे में अपने पार्टनर से खुलकर बात करना चाहिए।

पार्टनर की भी सुने

जब आप अपने पार्टनर से दिल की बात शेयर करें तो ध्यान रखें कि सब कुछ साफ-साफ और क्लीयर शब्दों में कहें। अपने विचार और फीलिंग को धैर्य के साथ समझाएं। साथ ही आपकी बात सुनने के बाद पार्टनर क्या कहना चाहता है, उसकी बात को भी आराम से सुने।

फैसले के लिए तैयार रहें

पार्टनर से फीलिंग शेयर करने के बाद हो सकता है सब कुछ आराम से खत्म हो जाए, वो आपकी फीलिंग की रिस्पेक्ट करे। लेकिन इस दौरान सब कुछ बिगड़ भी सकता है तो आप अपने फैसले के प्रभाव को समझने के लिए तैयार रहें। इसके लिए आपको भावनात्मक रूप से मजबूत बनना बहुत जरूरी है।

खुद से करें प्यार

किसी भी रिलेशनशिप से बाहर निकलने के बाद का समय सबसे अहम होता है। इससे ही पता चलता है कि आपने खुद को भावनात्मक रूप से कितना मजबूत किया है। इस रिश्ते से बाहर आने के लिए, अब आपको खुद पर फोकस करना होगा, जो प्यार आप औरो से चाहते हैं वो खुद को खुद से दें।