अगर आपको लेकर कोई घटिया कमेंट करे, तो उस व्यक्ति को सटीक जवाब देना बेहद जरूरी होता है. हालांकि कई लोग घटिया कमेंट को लेकर आपा खो बैठते हैं और विवाद की स्थिति बन जाती है. ऐसे में आज आपको कुछ स्मार्ट तरीके बताएंगे, जिन्हें फॉलो करके आप घटिया कमेंट्स का मुंहतोड़ जवाब दे पाएंगे.

घर-परिवार या वर्कप्लेस पर अक्सर लोगों को असभ्य कमेंट सुनने को मिलते हैं. सोशल मीडिया के दौर में जान-पहचान वाले लोगों के अलावा अजनबी भी घटिया कमेंट कर देते हैं. इन कमेंट्स से कई बार आपकी भावनाएं आहत हो जाती हैं. आज के जमाने में असंवेदनशील कमेंट मिलना कॉमन हो गया है. हर उम्र के लोगों को कभी न कभी इसका सामना करना पड़ता है. घटिया कमेंट्स को सुनकर कई लोग अचानक रिएक्ट कर जाते हैं और आक्रामक हो जाते हैं.

जबकि कुछ लोग शांति के साथ ऐसे कमेंट्स का मुंहतोड़ जवाब देते हैं. आज आपको बताएंगे कि अगर कोई आपके बारे में घटिया या असभ्य कमेंट करता है, तो आप किस तरह उसे कड़ा जवाब दें, ताकि भविष्य में वह व्यक्ति ऐसा बोलने की हिम्मत न कर सके.

शांत होकर जवाब दें –

किसी असभ्य कमेंट की वजह से लोगों को गुस्सा और शर्मिंदगी का शिकार होना पड़ सकता है. ऐसी कंडीशन से निपटने के लिए शांत रहना सबसे अच्छा तरीका है. आप शांत होकर सख्त लहजे में अपना जवाब दें. शब्दों को सोच-समझकर बोलें. इससे आपकी गरिमा बनी रहेगी और रचनात्मक आदान-प्रदान होगा.

कमेंट का इरादा समझें –

आप किसी भी घटिया कमेंट पर रिएक्ट करने से पहले उस व्यक्ति के साथ अपने रिश्ते के बारे में सोचें. इससे आपको यह समझने में मदद मिलेगी कि उस शख्स का कमेंट के पीछे इरादा क्या है. इससे आपको यह तय करने में मदद मिलेगी कि सीधे जवाब देना है या इसे इग्नोर करना है.

जोक्स के जरिए करें रिएक्ट –

घटिया कमेंट्स का मुंहतोड़ जवाब देने का सबसे अच्छा तरीका चुटकुला है. आप जोक्स के जरिए अपनी बात को सामने वाले व्यक्ति के सामने पहुंचा सकते हैं और इसे सभी स्वीकार भी करेंगे. सही समय पर किया गया मजाक या हल्की-फुल्की टिप्पणी माहौल बदल सकती है और दूसरे व्यक्ति को परेशान कर सकती है.

लिमिट तय करें –

अगर किसी व्यक्ति का कोई कमेंट घटिया होता है और उससे आप असहज महसूस करते हैं, तो एक बार फिर आप उसकी लिमिट पर जोर दें. आप सीधे शब्दों में बताएं कि यह कमेंट गलत था और आप उस व्यक्ति से ऐसी उम्मीद नहीं करते थे. लिमिट तय करने से आपकी अपेक्षाओं के बारे में एक स्पष्ट संदेश जाता है.

समझदारी से जवाब दें –

कई बार लोग घटिया कमेंट सुनकर भड़क जाते हैं और आक्रामक रुख अपना लेते हैं. ऐसा करने से कोई फायदा नहीं है. कई बार आप चुप रहकर अपना विरोध दर्ज कर सकते हैं. हर घटिया कमेंट पर रिएक्ट करने की जरूरत नहीं होती है. कभी-कभी मौन एक शक्तिशाली बयान हो सकता है. आप सोच-समझकर ही रिएक्ट करें.

स्पष्टीकरण मांगें –

कुछ मामलों में किसी टिप्पणी को गलत समझा जा सकता है. ऐसे में गलतफहमी से बचने के लिए आप स्पष्टीकरण मांग सकते हैं. उस व्यक्ति से कमेंट के बारे में विस्तार से बताने के लिए कह सकते हैं. यह दृष्टिकोण न केवल दूसरे व्यक्ति को अपने शब्दों पर पुनर्विचार करने का मौका देता है बल्कि बातचीत को भी बढ़ावा देता है.